You Must Grow
India Must Grow

Follow Us On

National Thoughts

A Web Portal Of Positive Journalism

National Thoughts – We Must Grow India Must Grow 

Cancer Vaccine: Cancer treatment possible, this drug was 100% effective during the trial

Cancer Vaccine : कैंसर का इलाज संभव, ट्रायल के दौरान ये दवा हुई 100% असरदार

Share This Post

कैंसर का इलाज मिला 
 
न्यूज डेस्क ( नेशनल थॉट्स ) : कैंसर एक लाइलाज और जानलेवा बीमारी है, यह हम सभी को पता है | इस बीमारी का दवा या वैक्सीन खोजने की कोशिश पिछले कई सालों से की जा रही है, लेकिन अभी तक कामयाबी नहीं मिली है। लेकिन, अब कोलोरेक्टल कैंसर की एक नई दवा ने विशेषज्ञों को चौंका दिया, क्लिनिकल ट्रायल के दौरान कैंसर से प्रभावित सभी मरीजों से कैंसर का वायरस गायब हो गया।

विशेषज्ञों को मिली कामयाबी 

Dostarlimab, एक मोनोक्लोनल एंटीबॉडी दवा, जिसे यूके में एंडोमेट्रियल कैंसर के इलाज के लिए पहले से ही स्वीकृत किया गया है, उसने न्यूयॉर्क में मेमोरियल स्लोन केटरिंग कैंसर सेंटर में क्लिनिकल ट्रायल के दौरान उम्मीदों की सभी सीमा रेखा को तोड़ दिया। रिपोर्ट के दौरान ये क्लिनिकल ट्रायल अस्पताल में भर्ती 18 कैंसर मरीजों के ऊपर किया गया था और नतीजे में पता चला | 
 
 
अभी तक लाइलाज है कैंसर!
 
कैंसर अभी तक एक जानलेवा बीमारी बनी हुई है और ब्रिटेन में हर साल 43 हजार तो अमेरिका में हर साल कोलोरेक्टल कैंसर के डेढ़ लाख मरीज मिलते हैं। वहीं, ब्रिटेन में हर साल कोलोरेक्टल कैंसर से 17 हजार और अमेरिका में 53 हजार मरीजों की मौत हो जाती है। लिहाजा, इस दवा को एक महत्वपूर्ण खोज माना जा रहा है। 
 
क्लिनिकल ट्रायल के दौरान डॉक्टर उस वक्त उत्साहित हो गये, जब उन्होंने देखा कि, Dostarlimab दवा का इस्तेमाल करने के बाद, जिन मरीजों के पास विशिष्ट आनुवंशिक मेकअप ट्यूमर होते हैं, जिसे मिसमैच रिपेयर-डेफिशियेंसी (MMRD) या माइक्रोसेटेलाइट अस्थिरता (MSI) के रूप में जाना जाता है |
 
किस तरह किया गया क्लिनिकल ट्रायल?
 
क्लिनिकल ट्रायल के दौरान 18 मरीजों को कोलोरेक्टल कैंसर के लिए पिछले उपचार से गुजरना पड़ा था, जिसमें कीमोथेरेपी और जोखिम भरी सर्जरी शामिल थीं। अध्ययन में नामांकित मरीजों को छह महीने के लिए हर तीन सप्ताह में मोनोक्लोनल एंटीबॉडी उपचार दिया गया। जिसके बाद शोधकर्ताओं ने 12 महीने बाद रोगियों की लगातार मॉनिटरिंग की और फिर टेस्ट के दौरान पता चला |
 
 
कितनी है इस दवा की कीमत?
 
डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका में Dostarlimab की कीमत लगभग 11,000 डॉलर यानि करीब आठ लाख 80 हजार रुपये प्रति 500mg है। जबकि, यूनाइटेड किंगडम में इस दवा की कीमत यूके में, इसे प्रति खुराक 5,887 पाउंड में बेचा जाता है। Dostarlimab हर साल लगभग 100 एडवांस एंडोमेट्रियल कैंसर रोगियों को दिया जाता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

खबरें और भी है ...

Advertisment

होम
खोजें
विडीओ

Follow Us On