You Must Grow
India Must Grow

Follow Us On

National Thoughts

A Web Portal Of Positive Journalism
Sagar in Gagar 171

गागर में सागर 171

मोह में आसक्त को ज्ञान देना व्यर्थ है लोभी – कंजूस को उदारता का उपदेश देना व्यर्थ है क्रोधी व्यक्ति को शांति की बात कहना

Read More »
Sagar in Gagar 171

गागर में सागर 170

उत्तम व्यक्ति संस्कारों से प्रेम करता है निम्न व्यक्ति भय से प्रेम करता है मध्यम व्यक्ति स्वार्थ से प्रेम करता है

Read More »
Sagar in Gagar 171

गागर में सागर 169

जैसे ऊसर भूमि में बीज व्यर्थ हो जाता है उसी प्रकार मूर्ख से प्रार्थना करना व कुटिल से प्रेम करना व्यर्थ हो जाता है |

Read More »
Sagar in Gagar 171

गागर में सागर 168

मंत्री यदि किसी भी कारण से गलत राय देता है तो राज्य नष्ट ही जाता है वैद्य यदि किसी भी कारण से गलत राय देता

Read More »
Sagar in Gagar 171

गागर में सागर 167

राजा का विरोध करना राज्य का विरोध करना राजा के हित में कार्य करना राज्य के हित में काम करना अलग-अलग हैं इनको विचार में

Read More »
[presto_player id=10633]
[presto_player id=10633]
Today's Astrological Tips
आज का
ज्योतिषिय टिप्स
सम्पर्क करें
प. अनिल कुमार त्रिपाठी
7217768289
Sagar in Gagar 151
[presto_player id=10633]
होम
खोजें
विडीओ

Follow Us On