Advertisment

Checking the presence of MPs in the Indian Parliament for the first time

भारतीय संसद में पहली बार हुई सांसदों की उपस्थिति की जांच

Share This Post

Share on facebook
Share on whatsapp
Share on twitter
Share on email

पिछले 2 वर्षों में 78 फीसदी सांसदों की दैनिक उपस्थिति की हुई जांच 

न्यूज डेस्क : भारतीय संसद में ऐसा पहली बार हुआ होगा जब किसी संसद के सदस्य (सांसद) की उपस्थिति और अनुपस्थिति दर्ज की गई | ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि सांसद अपने काम को कितनी गंभीरता से ले रहे है इसकी जांच की जा सके | 
 
30 प्रतिशत सांसदों की उपस्थिति रही सबसे कम  
 
2 साल की अवधि में उनकी उपस्थिति रिकॉर्ड के विश्लेषण के माध्यम से पता चला है कि राज्य सभा के 78 प्रतिशत सदस्य विभिन्न बैठकों में उपस्थित रहे और प्रतिदिन कार्यवाही में भाग लिया। लेकिन संसद के सर्वेक्षण के सभी दिनों में सदन की प्रत्येक बैठक के दौरान केवल 30 प्रतिशत ही उपस्थित थे।

सिर्फ इस सांसद ने लिया सभी 138 बैठकों में भाग 

दिलचस्प बात यह है कि सर्वेक्षण की अवधि के दौरान 2 प्रतिशत से थोड़ा कम सदस्यों ने एक बार भी 100 प्रतिशत उपस्थिति नहीं देखी। उच्च सदन के केवल एक सदस्य एसआर बालासुब्रमण्यम ने पिछले 7 सत्रों की सभी 138 बैठकों में भाग लिया। वह अखिल भारतीय अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) की ओर से राज्यसभा में वर्तमान सांसद हैं।

Advertisment

खबरें और भी है ...