Advertisment

First FIR: Do you know when, who, where and why the FIR was lodged for the first time in the country?

First FIR : क्या आप जानते है देश में पहली बार FIR कब, किसने, कहा और क्यों दर्ज कराई थी ?

Share This Post

Share on facebook
Share on whatsapp
Share on twitter
Share on email
अंग्रेजों के अधीन थी कानून व्यवस्था 
 
 
न्यूज डेस्क : भारत में कानून व्यवस्था की शुरुआत 1861 में अंग्रेजों द्वारा हुई थी | भारत में पहली एफआईआर राजधानी दिल्ली में ही दर्ज हुई थी | यह रिपोर्ट एक चोरी की घटना के बारे में दर्ज कराई गई थी, तारीख थी- 18 अक्टूबर 1861 | दिल्ली पुलिस ने 24 अगस्त 2017 को अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी | यह एफआईआर उर्दू में लिखी गई थी |

क्या हुआ था चोरी ?
दिल्ली पुलिस के मुताबिक, इस एफआईआर में खाना बनाने वाले बर्तनों में 3 डेगची, एक कटोरा, एक कुल्फी बनाने वाला सांचा, औरतों के कुछ कपड़े और हुक्का चोरी हुआ था | चोरी हुए सामानों की कीमत उस समय 45 आने थी | 16 आने का 1 रुपया होता है |

कहाँ और किसने लिखवाई थी रिपोर्ट?
चोरी की इस घटना के बाद देश में पहली एफआईआर दर्ज कराने वाले शख्स का नाम था- मयुद्दीन था | वे दिल्ली के कटरा शीशमहल के रहने वाले थे | यह रिपोर्ट दिल्ली के सब्जी मंडी थाने में दर्ज कराई गई थी |

 
1861 में दिल्ली में थे सिर्फ 5 थाने 
उस समय दिल्ली में 5 थाने हुआ करते थे | कोतवाली थाना, सब्जी मंडी थाना, सदर बाजार थाना, महरौली थाना और मुंडका थाना | दिल्ली पुलिस द्वार ट्वीट की गई एफआईआर की कॉपी को आप जीटीबी नगर के किंग्सवे कैंप रोड पर बने पुलिस म्यूजियम में देख सकते हैं |

Advertisment

खबरें और भी है ...