Advertisment

https://nationalthoughts.com/yoga-yogasanas-for-better-health-of-children/

गरुड़ पुराण : आपकी सफलता को रोकती है यह 3 आदतें

Share This Post

Share on facebook
Share on whatsapp
Share on twitter
Share on email
न्यूज डेस्क : भारत धार्मिक विविधताओं का देश है | हिंदू धर्म ग्रंथों में से एक गरुड़ पुराण में कुल 19 हजार श्लोक हैं, जिसमें से 7 हजार श्लोक में सिर्फ ज्ञान, धर्म, यज्ञ, तप, नीति, रहस्य आदि से जुड़ी बातें कही गई हैं | इस ग्रंथ को सभी धर्मों के लोग पढ़ना पसंद करते है | इससे ये स्पष्ट होता है कि गरुड़ पुराण सिर्फ मृत्यु के बाद की स्थितियों का वर्णन नहीं करता, ये तत्कालीन जीवन से भी जुड़ा है |
गरुड़ पुराण में लिखी कुछ अहम बातें 

नकारात्मक सोच
गरुड़ पुराण के मुताबिक कोई भी काम सफल बनाने के लिए सकारात्मक सोच बहुत जरूरी है | जो लोग हर वक्त नकारात्मक सोचते हैं, उनके लिए सफल होना बहुत मुश्किल हो जाता है | इसलिए सफलता का पहला मंत्र है सकारात्मक सोच, इसे अपने अंदर विकसित कीजिए |

भाग्य के भरोसे रहने वाले
जो लोग सफलता को किस्मत की देन समझते हैं, वो लोग कभी पर्याप्त कर्म नहीं करते | ऐसे लोगों से सफलता भी कोसों दूर हो जाती है | इसलिए अगर सफल होना है तो अपनी मेहनत और कर्म से अपना भाग्य स्वयं बनाइए |

दिखावटी लोग
जो लोग हर बात पर दिखावा करते हैं, वो दूसरों को आहत करके खुद को संतुष्ट करने का प्रयास करते हैं | ऐसे लोग कभी अपने लक्ष्य तक नहीं पहुंच सकते क्योंकि इनका दिमाग बस खुद को उच्च स्तर का साबित करने में लगा रहता है | यदि सफलता चाहिए तो मेहनत के बूते पर ऐसा कुछ कीजिए कि आपकी सफलता आपकी हैसियत का डंका बजा दे |

Advertisment

खबरें और भी है ...