YOU MUST GROW INDIA MUST GROW

National Thoughts

A Web Portal Of  Positive Journalism

Holistic Health Tips, Arogya Sevak - Mukesh Babu Gupta

होलिस्टिक हेल्थ टिप्स , आरोग्य सेवक – मुकेश बाबू गुप्ता

Share This Post

50% LikesVS
50% Dislikes

दालचीनी के फायदे

 

दालचीनी के सेवन से पाचनतंत्र संबंधी विकार, दांत, व सिर दर्द, चर्म रोग, मासिक धर्म की परेशानियां ठीक की जा सकती हैं। इसके साथ ही दस्त, और टीबी में भी इसके प्रयोग से लाभ मिलता है।
*सर्दियों में दालचीनी का उपयोग कैसे करें?*
 सर्दियों में दालचीनी का सेवन काफी फायदेमंद होता है।  वैसे तो अधिकांश घरों में दालचीनी का उपयोग मसाले के रूप में होता है लेकिन आप चाहें तो चाय या काढ़ा के रूप में इसका सेवन कर सकते हैं। चाय में दालचीनी डालने से एक तो चाय का स्वाद बढ़ जाता है और दूसरा यह सर्दी से भी बचाव करती है।
*दस्त पर रोक लगाने के लिए दालचीनी का उपयोग*
》 5 ग्राम दालचीनी चूर्ण में 1 चम्मच मधु मिला लें। इसे दिन में 3 बार सेवन करें। इससे दस्त में फायदा होता है।
》 750 मिग्रा दालचीनी के चूर्ण में 750 मिग्रा कत्था चूर्ण मिला लें। इसे पानी के साथ दिन में तीन बार सेवन करें। इससे दस्त पर रोक लगती है।
》 इसी तरह 4 ग्राम दालचीनी, तथा 10 ग्राम कत्था को मिलाकर पीस लें। इसमे 250 मिली खौलते हुए पानी में डालकर ढक दें। दो घंटे बाद इसे छानकर दो हिस्से करके पिएं। इससे दस्त बन्द हो जाते हैं।
》10-20 मिली दालचीनी का काढ़ा पीने से पेट संबंधी बीमारियों में लाभ होता है।
》दालचीनी की जड़, और छाल का काढ़ा बना लें। इसे 10-20 मिली की मात्रा में पिएं। इससे आमाशय विकार, और दस्त में लाभ मिलता है।
*और भी कई रोगो में दालचीनी का प्रयोग बहुत ही फायदेमंद है जैसे:-*
》दांत के दर्द से आराम पाने के लिए
》भूख को बढ़ाने के लिए 
》उल्टी को रोकने के लिए
》सिर दर्द से आराम के लिए 
》कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए
》बहरेपन की समस्या के लिए 
》हिचकी की परेशानी में 
》आंखों के रोग में
》आंतों के रोग में 
》चर्म रोग में
》जुकाम में
》खांसी में
      *निरोग हेल्थ केयर*
    “आरोग्य सेवक और मित्र “
         मुकेश बाबू गुप्ता
 -:संपर्क करे:-9560355455

खबरें और भी है

Please select a default template!