YOU MUST GROW INDIA MUST GROW

National Thoughts

A Web Portal Of  Positive Journalism

Holistic Health Tips, Arogya Sevak - Mukesh Babu Gupta

होलिस्टिक हेल्थ टिप्स, आरोग्य सेवक – मुकेश बाबू गुप्ता

Share This Post

100% LikesVS
0% Dislikes

सर्वाइकल में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं

सर्वाइकल दर्द की समस्या से आजकल अधिकतर लोग परेशान हैं. यह समस्या महिला व पुरुष दोनों को प्रभावित कर सकती है. 40 वर्ष से अधिक आयु के लगभग 60 फीसदी लोग इससे प्रभावित होते हैं. उम्र बढ़ने पर यह समस्या गंभीर रूप लेने लगती है. इस दौरान व्यक्ति को तेज सिरदर्द, सिर के पिछले हिस्से में दर्द, गर्दन और कंधे में दर्द महसूस हो सकता है. सर्वाइकल के दर्द को दवाइयों व एक्सरसाइज की मदद से कम किया जा सकता है. साथ ही हड्डियों और जोड़ों को मजबूत बनाने के लिए हेल्दी डाइट लेना भी जरूरी होता है.

सर्वाइकल में क्या खाना चाहिए

सर्वाइकल के दर्द को कम करने के लिए एक्सरसाइज के साथ ही खाने-पीने पर भी ध्यान देना चाहिए. इस दौरान सर्वाइकल रोगी शाकाहारी और मांसाहारी दोनों तरह के खाद्य पदार्थों को डाइट में शामिल कर सकते हैं. सर्वाइकल के लिए कैल्शियम, विटामिन-डी व विटामिन-सी जैसे पोषक तत्व फायदेमंद माने जाते हैं. इसके अलावा, मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड भी सूजन और दर्द को कम करने में मदद कर सकता है.

कैल्शियम
हड्डियों की मजबूती के लिए कैल्शियम से युक्त खाद्य पदार्थ जरूरी हैं. इसके लिए अपनी डाइट में हरी सब्जियां, दूध, चीज़, सोयाबीन, साल्मन मछली व पालक आदि को शामिल करना चाहिए. इन खाद्य पदार्थों के सेवन से हड्डियों का विकास बेहतर तरीके से होता है.

विटामिन-डी
हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए विटामिन-डी जरूरी है. अगर शरीर में पर्याप्त विटामिन-डी नहीं है, तो इससे कैल्शियम को अवशोषित करना मुश्किल होगा, क्योंकि हड्डियों में कैल्शियम को अवशोषित करने के लिए विटामिन-डी की जरूरत होती है. मशरूम, दूध, अंडे के पीले भाग व सूरज की रोशनी से पर्याप्त विटामिन-डी मिल सकता है.
विटामिन-सी
यह हड्डियों व मसूड़ों को मजबूती प्रदान करने के लिए जरूरी विटामिन है,विटामिन-सी कोलेजन के निर्माण में भी सहायक होता है. कोलेजन हमारे स्वास्थ्य के लिए जरूरी तत्व है, जो हड्डियों के खनिज के निर्माण में मदद करता है. आंवला ,संतरा, अमरूद, नींबू व चकोतरा आदि में विटामिन-सी पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है.

 

विटामिन-ई
विटामिन-ई शरीर में सूजन व दर्द को कम करने में मदद करता है. कोशिश करें कि विटामिन-ई से भरपूर खाद्य पदार्थों को ज्यादा न पकाएं, क्योंकि गर्मी विटामिन-ई को नष्ट कर सकती है. नट्स व बीज, टमाटर, साबुत अनाज, सूरजमुखी का तेल, आम, कीवी आदि को विटामिन-ई का मुख्य स्रोत माना गया है.
अदरक और लहसुन
भारतीय रसोई में अदरक व लहसुन आसानी से मिलने वाली चीजें हैं. ये दो चीजें सूजन और दर्द से छुटकारा पाने का एक तरीका हो सकती हैं. इन दोनों में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होता है, जो सूजन और दर्द से निपटने में फायदेमंद हो सकता है.

सर्वाइकल में क्या नहीं खाना चाहिए
》 सर्वाइकल होने पर मसालेदार, नमकीन और ऑयल फूड्स खाने से बचें.
》चावल से पूरी तरह से परहेज करें.
》 रेड मीट, सफेद आलू और कॉफी से भी बचें, क्योंकि ये शरीर में एसिड बढ़ाते हैं. इससे दर्द भी बढ़ सकता है.
》तला हुआ भोजन, अधिक खट्टा और ठंडा खाने से परहेज करें.
》 शराब व धूम्रपान से दूरी बनाकर रखनी चाहिए.

निरोग हेल्थ केयर
“आरोग्य सेवक और मित्र “
मुकेश बाबू गुप्ता
-:संपर्क करे:-9560355455

खबरें और भी है