YOU MUST GROW INDIA MUST GROW

National Thoughts

A Web Portal Of  Positive Journalism

Holistic Health Tips, Arogya Sevak - Mukesh Babu Gupta

होलिस्टिक हेल्थ टिप्स, आरोग्य सेवक- मुकेश बाबू गुप्ता

Share This Post

100% LikesVS
0% Dislikes

साइटिका के दर्द में क्या खाना चाहिए, क्या नहीं

साइटिका एक ऐसी स्वास्थ सम्बंधित समस्या है, जिसमें पीठ, कूल्हे और पैर के बाहरी हिस्से में दर्द होता है। साइटिका का दर्द पीठ के निचले हिस्से में एक तंत्रिका (nerve) में जलन, सूजन या दबाव के कारण होता है। यह दर्द हर व्यक्ति में अलग-अलग कारणों से हो सकता है। कुछ ऐसे आहार है जिनको खाने से शरीर में सूजन को कम करने के साथ साइटिका के असहनीय दर्द को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।

साइटिका के दर्द में क्या खाना चाहिए
कुछ खाद्य पदार्थ साइटिका के दर्द को कम करने में मदद करते हैं। वे इस प्रकार हैं :
अदरक
अदरक को अपने भोजन में शामिल करने से आपको काफी लाभ मिल सकता है। इस मसाले में मैंगनीज और विटामिन बी 3 अच्छी मात्रा में होते हैं जो एंटी इंफ्लेमेटरी प्रक्रिया में मदद करते हैं।
ग्रीन टी
नियमित रूप से ग्रीन टी का सेवन करने से आपको पेरीफेरल सेंसेशन और दर्द को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।

क्रुसिफेरस सब्जियां
क्रुसिफेरस सब्जियां कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं, जैसे कि बीटा कैरोटीन, ल्यूटिन, जेक्सैंथिन, विटामिन सी, ई और के, फोलेट आदि। दर्द को नियंत्रित करने और इस बीमारी की स्थिति में सुधार करने के लिए, अपने दैनिक आहार में मौसमी फूलगोभी, पत्ता गोभी, ब्रोकली, बोक चोय, मूली, शलजम आदि ले सकते हैं।
प्याज
प्याज में क्वेरसेटिन (एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट) की अच्छी मात्रा होती है, जो कि साइटिका के दर्द को कम करने में मदद करता है। इसे अपने सलाद, सूप या करी रूप में लेने की कोशिश करें।
हल्दी
हल्दी में करक्यूमिन नामक एक तत्व होता है, जो एक सूजन-रोधी एजेंट के रूप में कार्य करता है, जो कुछ सूजन-उत्तेजक एंजाइमों के स्तर को कम करके साइटिका दर्द और सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है। अपने दैनिक आहार में करक्यूमिन को लेने के लिए, हल्दी पाउडर को हल्दी वाला दूध के रूप में, अपनी सब्जियों, दाल या चाय आदि में ले सकते हैं।

हरी पत्तेदार सब्जियां
हरी पत्तेदार सब्जियां साइटिका के दर्द से लड़ने के लिए सभी आवश्यक पोषक तत्वों का एक अच्छा स्रोत हैं। हरी पत्तेदार सब्जियों में काफी अच्छी मात्रा में विटामिन ए, सी, K, बी9 आदि होते हैं।
साइटिका में क्या नहीं खाएं और परहेज
शराब
पानी की भरपूर मात्रा लें
प्रति दिन कम से कम 2.5-3 लीटर (लगभग 10-12 गिलास) पानी पीने की कोशिश करें।
फाइबर
इससे बचने के लिए फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ जैसे कि मोटे अनाज, साबुत फलियां, ताजी सब्जियां एवं फल, इसबगोल की भूसी आदि लेने की कोशिश करें।
ओमेगा 3 फैटी एसिड्स
ओमेगा 3 फैटी एसिड को फाइटोन्यूट्रिएंट्स के रूप में भी जाना जाता है। अपने दैनिक आहार में अलसी के बीज, जैतून का तेल, कद्दू के बीज और अखरोट जैसे एंटी-इंफ्लेमेटरी खाद्य विकल्पों का चयन करें।
विटामिन बी 12
विटामिन बी 12 को तंत्रिका स्वास्थ्य के लिए एक सहायक पोषक तत्व के रूप में जाना जाता है और विटामिन बी 12 की कमी होना आपके साइटिका के दर्द का कारण माना जाता है। दूध और दूध से बने उत्पाद, खमीरयुक्त भोजन, मीट, अंडे आदि इस पोषक तत्व के अच्छे स्रोत हैं। उन्हें अपने नियमित आहार में शामिल करें।

》 मैग्नीशियम
कई शोध कहते हैं, “मैग्नीशियम की नियमित खुराक विभिन्न न्यूरोलॉजिकल विकारों में सुधार लाने में मददगार साबित हो सकती है।” इस पोषक तत्व को अपने आहार में शामिल करने के लिए पकी हुई काली बीन्स, छोले, टोफू, बादाम, काजू, अलसी, पालक, भिंडी, इमली आदि ले सकते हैं।

निरोग हेल्थ केयर
“आरोग्य सेवक और मित्र ”
मुकेश बाबू गुप्ता
-:संपर्क करे:-9560355455

खबरें और भी है

Please select a default template!