YOU MUST GROW INDIA MUST GROW

National Thoughts

A Web Portal Of  Positive Journalism

how to make people strong

आओ जन – जन को शक्तिशाली बनायें – डॉ. वेद प्रकाश गुप्ता

Share This Post

50% LikesVS
50% Dislikes
नई दिल्ली – समाज मे व्याप्त राक्षसी वृत्ति को समाप्त करने और सात्विक वृत्ति को बढ़ाने के लिए श्री देवालय संघ शक्तिशाली  कैसे बने विषय पर साप्ताहिक मंथन बैठक का आयोजन पंजाबी  बाग सीटी मुख्य कार्यालय में प्रत्येक शनिवार को आयोजित किया जाता है।
जिसमें दिल्ली एनसीआर के अलावा हरियाणा उत्तरप्रदेश और राजिस्थान से संस्कृति नायक एकत्रित होकर अपने सुझाव और अपने विचार व्यक्त करते है। इसी कड़ी में इस सप्ताह की मंथन बैठक में जन – जन को शक्तिशाली कैसे बनाए और जन – जन तक देवालय के विचारों का विस्तार किए जाने पर विचार विमर्श किया गया ।
श्री देवालय संघ के चेयरमैन एवं संस्थापक डॉ. वेद प्रकाश गुप्ता ने संस्कृति नायकों को संबोधित करते हुए कहा की सेवा सबसे सर्वोपरि है सेवा का भाव व सेवा के महत्व के बारे में बताते हुए कहा की : किसी भूखे को खाना खिलाने की सेवा देकर उसे खुद इस काबिल बना दे की वह खुद खाने वाला बन जाए । और सभी को मानव सेवा का संदेश देते हुए देवालय संघ के द्वारा प्रस्तावित शपथ पत्र पढ़कर सभी ने प्रण लिया जो निम्नलिखित प्रकार से है :

१. मैं मानता हूँ की कण – कण में हर जगह पर परमपिता परमात्मा का वास है।

२. मै किसी भी प्राणी सें जात-पात या ऊँच-नीच का भेदभाव नहीं करूँगा।

३. मैं हमेशा यही कामना करता हूँ की सभी सुखी हों, सभी समृद्ध हों, सर्वत्र शांति हो।

४. मैं संस्कृति रक्षक बनकर संस्कार व संस्कृति की रक्षा के लिए कार्य करूँगा।

५. मैं शक्तिशाली बनकर राक्षसी शक्तियों और वृत्तियों को समाप्त करने के लिए कार्य करूँगा।

६. मैं मानवता की भलाई के लिए अपनी कमाई में सें एक रूपया प्रतिदिन अवश्य निकलूंगा।

७. मैं सात्विक वृत्ति वालों को संगठित करने व शक्तिशाली बनाने के “श्री देवालय संघ” के कार्य को आगे बढ़ाने के

     लिए प्रतिदिन कुछ समय (16 मिनट) अवश्य दूंगा।

बैठक में उपस्थित संस्कृति नायकों के सुझाव :
  • बैठक में उपस्थित संस्कृति नायक विकास गुप्ता जी ने बताया की : हमारी आने वाली पीढ़ी को संस्कार और संस्कृति की शिक्षा से परिपूर्ण करना  होगा ।
  • बैठक में उपस्थित संस्कृति नायक राजेश जी ने बताया की : हमारे घर में जो माता-बहने है वो बच्चों को बताएं की हमारी संस्कृति और संस्कार क्या है ।
  • बैठक में उपस्थित संस्कृति नायक  पंडित श्याम सुंदर दास जी ने बताया की : रोज एक व्यक्ति से मिलकर देवालय संघ के विचारों के बारे में उसे जानकारी देनी है, साथ-साथ जगह-जगह पर कैंप लगाए जाए और इस संघ का प्रचार किया जाए ।
  • बैठक  में उपस्थित संस्कृति नायक डॉ. धर्मेन्द्र मिश्रा जी ने सुझाव दिया की : आप जहां है वही आप सप्ताह में देव संवाद करे और उसकी वीडियो बनाकर हमें भेजें जिसे हम देव संवाद के नाम से अपने चैनल (नेशनल थॉट्स) के माध्यम से लोगों तक पहुंचाएंगे। इसी के साथ उन्होंने बताया की स्वस्थ बुजुर्ग स्वस्थ परिवार मुहिम चालू करें ।

खबरें और भी है

Please select a default template!