You Must Grow
India Must Grow

Follow Us On

National Thoughts

A Web Portal Of Positive Journalism

National Thoughts – We Must Grow India Must Grow 

improved back lift; Sixes off the last two balls in the match against PBKS

बैक लिफ्ट सुधारा; PBKS के खिलाफ मैच में आखिरी दो गेंदों पर छक्के

Share This Post

ब्रेबोर्न स्टेडियम में शुक्रवार को पंजाब किंग्स के खिलाफ आखिरी दो गेंदों गुजरात को जीत के लिए चाहिए 12 रन को बनाकर हीरो बने राहुल तेवतिया के इस प्रदर्शन के बीच उनके कोच का भी बड़ा हाथ है। 2021 में रनों के लिए संघर्ष करने वाले तेवतिया को फिर से वापसी लाने में उनके कोच का गुरुमंत्र का काफी योगदान है। उनके बचपन के कोच विजय यादव का कहना है कि IPL शुरू होने से पहले तेवतिया ने बैटिंग पर वर्क किया। मैंने उनके बैक लिफ्ट में थोड़ा चेंज कराया है। उनके बैक लिफ्ट को ऊंचा कराया है, ताकि उनके शॉट में पावर आ सके।

2020 में उनकी सफलता का राज भी यही था कि उनका बैक लिफ्ट ऊंचा था, परंतु अगर 2021 में देखा जाए, तो वह बैक लिफ्ट को कम कर शॉट लगा रहे थे। हमने उनके बैटलिफ्ट पर काम किया। वहीं नेट प्रैक्टिस की जगह ओपन ग्राउंड में प्रैक्टिस कराई, ताकि खुलकर शॉट खेलने की प्रैक्टिस हो सके। इसका असर IPL के 15वें सीजन में नजर आने लगा है। अब तक खेले 3 मैचों में उनका प्रदर्शन शानदार रहा है।

टी-20 वर्ल्ड कप के लिए फिनिशर के प्रबलदावेदार
तेवतिया के कोच कहते हैं कि धोनी के जाने के बाद टीम इंडिया के पास उनके जैसा फिनिशर नहीं है। टीम इंडिया में फिनिशर की जगह खाली है। राहुल ने शुरुआती मैचों में अपने प्रदर्शन के आधार पर यह दिखा दिया है कि फिनिशर की जगह भरने के लिए वह तैयार हैं। आप पंजाब किंग्स के साथ मैच की बात करें, तो आखिरी 2 गेंदों पर टीम के लिए टीम को जीत के लिए चाहिए 12 रन बनाकर जीत दिलाई। वहीं लखनऊ जायंट्स के खिलाफ भी टीम के लिए फिनिशर की भूमिका निभाते हुए 24 गेंदों पर 40 रन की पारी खेलकर जीत दिलाई। दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 8 गेंदों पर 14 रन बनाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

खबरें और भी है ...

Advertisment

होम
खोजें
विडीओ

Follow Us On