You Must Grow
India Must Grow

Follow Us On

National Thoughts

A Web Portal Of Positive Journalism

National Thoughts – We Must Grow India Must Grow 

Motivational Story: Whatever happens, happens for good

Motivational Story : जो होता है अच्छे के लिए ही होता है

Share This Post

परेशान व्यक्ति के भगवान से सवाल ? 
 
न्यूज डेस्क ( नेशनल थॉट्स ) : आज की कहानी एक ऐसे व्यक्ति की है जो जिंदगी में घटित होने वाली परेशानियों व परिस्थितियों से परेशान हो चुका है | आमतौर पर भी जीवन में कठिनाइयां आती रहती हैं | बस हमें इस चीज पर ध्यान देना जरूरी होता है कि हम उन परेशानियों का समाधान कैसे करते हैं |

 
मेरे ही किस्मत ऐसी क्यों ? 

ऐसे ही एक व्यक्ति की जिंदगी में बहुत उलझाने आती रहती हैं और एक दिन तो वह इतना ज्यादा परेशान हो गया था कि उसने रात में ही ईश्वर से फरियाद करना शुरू कर दी, और गुस्से में बुरा भला कहने लगा कि आपने आज मेरा पूरा दिन खराब कर दिया | आपको मेरे साथ ही यह सब क्यों करना होता है ? दुनिया में और भी तो लोग हैं |

पूरा दिन एक अलार्म की वजह से खराब हुआ !

तब परमात्मा ने पूछा, क्यों ऐसा क्या हुआ तुम्हारे साथ ? तो वह व्यक्ति बोला कि मुझे सुबह को जल्दी उठकर जाना था | लेकिन मेरा अलार्म नहीं बजा और मुझे उठने में देर हो गई | एक तो मुझे पहले ही लेट हो रहा था और जैसे ही मैंने अपना स्कूटर स्टार्ट किया | मेरा स्कूटर ही स्टार्ट नहीं हुआ, बहुत मुश्किल से मुझे एक रिक्शा मिला और देर होने की वजह से, मैं अपने ऑफिस में अपना टिफिन भी ले जाना भूल गया था |

ऑफिस की कैंटीन बंद  
 
जब ऑफिस पहुंचा तो वहां कैंटीन भी बंद थी | बड़ी मुश्किल से मुझे कहीं से एक सैंडविच मिला और पूरा दिन मुझे एक उस सैंडविच के सहारे निकालना पड़ा | लेकिन वह सैंडविच भी खराब था | मुझे कहीं से फोन पर एक बहुत अच्छा ऑफर आया था लेकिन उसी समय पर मेरा फोन बंद हो गया, फिर उस व्यक्ति ने कहा, मैंने सोचा कि घर जाकर एसी चलाकर सो जाऊंगा | आराम करूंगा, लेकिन जैसे ही मैं घर पहुंचा तो लाइट चली गई थी |

मुझे समझ नहीं आ रहा कि यह सारी तकलीफें आप मुझे ही क्यों देते हैं?

 
आपको कोई और नहीं मिलता क्या? तब ईश्वर ने उससे कहा, तुम मेरी बात को ध्यान से सुनो आज सारा दिन तुझ पर मुश्किलें और आफत आनी थी| परेशानी आनी निश्चित थी | इसलिए मैंने देवदूत को भेजकर, तेरा अलार्म बजने ही नहीं दिया , और आज तेरा स्कूटर से एक्सीडेंट होने वाला था, इसलिए तेरा स्कूटर भी बिगाड़ दिया |
 
 
भगवान ने देवदूत को भेजा !

जिस कैंटीन की तुम बात कर रहे हो | उसका खाना खराब हो चुका था | जो तेरे शरीर को भयानक नुकसान पहुंचा सकता था, और जिस इंसान से तुमने फोन पर बात किया वह इंसान एक नंबर का घोटालेबाज था, और वह तुझे बहुत बड़ी मुश्किल में फंसा देता | इसीलिए तेरा मैंने फोन ही खराब कर दिया, और आज तेरे घर में शॉर्ट सर्किट से आग लगने वाली थी इसीलिए मैंने तेरी बिजली ही बंद करा दी |

परमात्मा से मांगी माफी 

ईश्वर ने उस व्यक्ति से कहा, मैंने तुझे दुख देने के लिए या तुझे परेशान करने के लिए, यह सारी उलझने नहीं दी | मैंने तुझे बचाने के लिए यह सारी चीजें की है | जब उस व्यक्ति को यह पता चला कि यह सारी चीजें, मेरी रक्षा के लिए हुई हैं, तो वह परमात्मा से माफी मांगने लगा | आप मुझे माफ कर दो | मैं आपको समझ नहीं पाया | तब परमात्मा ने कहा, माफी मांगने की जरूरत नहीं है, लेकिन विश्वास रख | मैं हमेशा तुम्हारे साथ हूं | मैं हमेशा सबका भला करता हूं |

कहानी से मिली सीख : कई बार हमारी जिंदगी में भी ऐसी मुश्किल आती हैं, ऐसे हालात आते हैं, जो हमें समझ में नहीं आते कि हमारे साथ ऐसा क्यों हो रहा है | लेकिन भविष्य में जाकर हमें यह समझ में आता है कि अगर हमारे साथ यह बात नहीं हुई होती तो आज हम बहुत बड़ी मुसीबत में पड़ जाते | 

 
 
 
मुश्किल आए तो घबराना मत बस विश्वास रखना  
 
तो यह कहानी हमें शिक्षा देती है कि आपकी जिंदगी में कितनी भी मुश्किलें क्यों ना आ जाए, कितनी भी उलझने क्यों ना आ जाए , आपको बस मन में विश्वास रखना है कि इसमें भी आपकी भलाई छुपी होगी | मुश्किलें आए तो घबराना मत, मन में यह विश्वास रखना कि वह ऊपर बैठा ईश्वर मेरी रक्षा कर रहा है | 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

खबरें और भी है ...

Advertisment

होम
खोजें
विडीओ

Follow Us On