YOU MUST GROW INDIA MUST GROW

National Thoughts

A Web Portal Of  Positive Journalism

Ravish Kumar said this after resigning: Channel can be sold not Ravish Kumar

इस्तीफा देने के बाद रवीश कुमार ने कही ये बात:चैनल बिक सकता है रवीश कुमार नहीं

Share This Post

50% LikesVS
50% Dislikes
नई दिल्ली न्यूज डेस्क (नेशनल थॉट्स) : समाचार चैनल एनडीटीवी के वरिष्ठ कार्यकारी संपादक रवीश कुमार ने बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। रवीश कुमार एनडीटीवी (हिंदी) के सबसे लोकप्रिय चेहरे में शुमार किए जाते हैं। पत्रकारिता जगत में अपने योगदान के लिए रवीश कुमार साल 2019 में रेमन मैग्सेसे पुरस्कार से सम्मानित किए जा चुके हैं। इसके अलावा उन्हें दो बार रामनाथ गोयनका उत्कृष्टता पुरस्कार से भी नवाज़ा गया।
हिन्दी पत्रकारिता के बेहद लोकप्रिय पत्रकार रविश कुमार : 
रवीश कुमार ने अपने कार्यकाल के दौरान कई प्रोग्राम होस्ट किए, जिनमें हम लोग, रवीश की रिपोर्ट, देश की बात और प्राइम टाइम शामिल हैं।एनडीटीवी  समूह की अध्यक्ष सुपर्णा सिंह ने संस्थान के वरिष्ठ संपादक के इस्तीफे को लेकर कहा कि ‘रवीश कुमार जैसे लोगों को प्रभावित करने वाले पत्रकार विरले होते हैं।

यह उनके बारे में लोगों की प्रतिक्रिया में दिखता है। सुपर्णा सिंह ने मीडिया समूह को भेजे आंतरिक ईमेल में कहा, ‘रवीश कुमार दशकों से एनडीटीवी का एक अभिन्न हिस्सा रहे हैं। उनका योगदान बहुत अधिक रहा है और हम जानते हैं कि वह अपनी नई पारी में भी बेहद सफल होंगे। रवीश कुमार एनडीटीवी इंडिया के सबसे चर्चित चेहरों में से एक थे। अपनी रिपोर्ट्स में वह बेरोज़गारी, शिक्षा और सांप्रदायिकता जैसे मुद्दे उठाते रहे हैं। समाचार पत्र ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ ने वर्ष 2016 में उन्हें ‘100 सबसे प्रभावशाली भारतीयों’ की अपनी लिस्ट में भी शामिल किया था।

खबरें और भी है