Advertisment

Sagar in Gagar – 64

गागर में सागर – 60

Share This Post

Share on facebook
Share on whatsapp
Share on twitter
Share on email

क्रोध भी पाप का मूल है
लोभ भी पाप का मूल है
क्रोध से भी बचो
लोभ से भी बचो |

Advertisment

खबरें और भी है ...