Advertisment

This is the reason behind creating the history of Sensex, India will soon invest 40 billion dollars

सेंसेक्स के इतिहास रचने के पीछे ये है वजह, भारत में जल्द होगा 40 बिलियन डॉलर का निवेश

Share This Post

Share on facebook
Share on whatsapp
Share on twitter
Share on email
पीएम मोदी के अमेरिकी दौरे से जुड़ा है मामला 
 
 
न्यूज डेस्क : अमेरिका के दौरे 3 दिवासिए दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वहां की 5 दिग्गज कंपनियों के CEOs से बात की। इनमें क्वालकॉम, ब्लैक स्टोन ग्रुप, एडॉब, फर्स्ट सोलर, जनरल एटॉमिक्स के CEO शामिल हैं। आइए जानते क्या यही कारण है की आज सेंसेक्स ने इतिहास रचा है :-

चिपसेट बनाने वाली कंपनी क्वालकॉम जताई निवेश की इच्छा 


मोदी ने दिग्गज अमेरिकी टेक्नोलॉजी कंपनी क्वालकॉम के CEO क्रिस्टियानो अमान को भारत में मिलने वाले अवसरों के बारे में बताया। क्वालकॉम के CEO ने भारत में 5G सहित कई क्षेत्रों में मिलकर काम करने की इच्छा जताई। कंपनी के चिपसेट मोबाइल गेमिंग और 5जी टेक्नोलॉजी के मामले में कंज्यूमर की पॉपुलर चॉइस हैं।

ब्लैक स्टोन ग्रुप ने कहा उनके लिए दुनिया में सबसे अच्छा बाजार रहा है भारत


ब्लैकस्टोन ग्रुप के सीईओ स्टीफन श्वॉर्जमैन ने पीएम से मुलाकात में कहा कि भारत उनके ग्रुप के लिए दुनिया में सबसे अच्छा बाजार रहा है। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया में सबसे तेज ग्रोथ वाला देश है, इसलिए यहां ग्रुप के लिए बनने वाली संभावनाओं को लेकर वह बहुत उत्साहित हैं।
टेक्नोलॉजी और भारत में पॉलिसी रिफॉर्म्स से मिल रहे भरोसे पर बात
जनरल एटॉमिक्स के CEO विवेक लाल ने कहा कि हम जिन क्षेत्रों में काम करने की बात कर रहे हैं, वहां बहुत संभावनाएं हैं। मुझे लगता है कि अमेरिकी कंपनियां भारत को संभावनाओं वाले देश की तरह देख रहे होंगी। हमने पीएम के साथ टेक्नोलॉजी और भारत में हो रहे पॉलिसी रिफॉर्म्स से मिल रहे भरोसे पर बात की।

फर्स्ट सोलर की पीएम से मुलाकात
 
फर्स्ट सोलर के CEO मार्क विडमर ने पर्यावरण संरक्षण और उससे जुड़े उद्योगों को लेकर भारत सरकार की नीतियों पर खुशी जाहिर की। पीएम ने 450 मेगावॉट रिन्यूएबल एनर्जी के महत्वाकांक्षी लक्ष्य को लेकर एक विश्व, एक सूर्य और एक ग्रिड अभियान और उससे जुड़ी संभावनाओं पर बात की।
भारत में निवेश खुफिया हथियार, एडॉब के लिए लोग सबसे बड़ी संपत्ति
 
पीएम से मीटिंग के बाद एडॉब के सीईओ शांतनु नारायण ने कहा कि लोग कंपनी के लिए सबसे बड़ी संपत्ति हैं। नारायण ने कहा कि जिस चीज से शिक्षा और डिजिटल साक्षरता को बढ़ावा मिले, वह एडॉब के लिए फायदेमंद है।

Advertisment

खबरें और भी है ...