Advertisment

To express too much in too few words

गागर में सागर – 12

Share This Post

Share on facebook
Share on whatsapp
Share on twitter
Share on email

तर्क करते समय एक बात हमेशा ख्याल रखो
दोनों ही ठीक हो सकते हैं |
गिलास को आधा भरा देखने वाला ठीक है तो
गिलास को आधा खाली देखने वाला भी उतना ही ठीक है |
अपना अपना द्रष्टिकोण है
तर्क में कटुता मत आने दो

Advertisment

खबरें और भी है ...