Advertisment

आज का सुविचार — चाणक्य

Share This Post

Share on facebook
Share on whatsapp
Share on twitter
Share on email

• आँखे बंद कर लेने से मुसीबत का अंत नहीं होता और मुसीबत आये बिना कभी आँखे नहीं खुलती।

Advertisment

खबरें और भी है ...